how to handle negative thoughts

दोस्तों हम सब अपनी जिंदगी से क्या चाहते हैं, कोई अच्छा जॉब चाहता है, कोई पतला होना चाहता है , कोई वजन बढ़ाना चाहता है , और कोई बहुत ही सक्सेसफुल होना चाहता है । हम सब अंत में खुश होना चाहते हैं । हम सब सोचते हैं कि चीजों से खुशी मिलती है । शायद अपनी आदतों को बदलने से खुशी मिलती है । सीखने वाली बात है कि क्या हम नेगेटिव को पॉजिटिव में बदलकर खुशी प्राप्त कर सकते हैं । मनोवैज्ञानिक रिसर्च में पाया गया है कि हम हर मिनट 300 से 1000 शब्द खुद से कहते हैं । जो भी जीवन में घटा हमारा मन लगातार उसका आंकलन कर रहा है । यही शब्द आपको लगातार बताते जा रहे हैं । कि क्या अच्छा हुआ और बुरा । मेरे साथ अच्छा हुआ है या बुरा हुआ है । जब कुछ चीजें आपके अनुसार गलत हो जाती है, तो यही शब्द नेगेटिव हो जाते और आपके सेल्फ कॉन्फिडेंस और खुशी को खत्म कर देते हैं ।

जिस तरह अगर आप किसी नेगेटिव इंसान से दिन भर बात करते हैं तो दिन के अंत में आप निराश हो जाओगे, परेशान हो जाओगे । उसी तरह आपकी अपनी Negative Self Talk एक छोटे शैतान के रूप में काम करती है । और यदि इस पर ध्यान ना दिया जाए तो लंबे समय तक परेशान करती है । उदाहरण के लिए यदि आप कुछ लोगों के सामने गलत जवाब देते हैं, तो उसी समय यह छोटा शैतान शुरू हो जाता है, कि गलती हो गई मेरे मुंह से कैसे निकल गया, मुझे कुछ नहीं आता, मैं तो बहुत बेवकूफ हूं । और पता नहीं क्या-क्या… लेकिन अगर आप इस छोटे शैतान से सचेत हो जाते हैं, इस छोटे शैतान को कोने में रखकर सोचते हैं, कि… हां गलती हुई, सबसे हो जाती है, गलती करके ही सीख लूंगा, सभी गलती करके सीखते हैं, तो आप अपनी नेगेटिविटी और इस शैतान से बच सकते हैं । जब यह छोटा शैतान शांत हो जाता है, तब हमें सेल्फ कॉन्फिडेंस और खुशी महसूस होने लगती है । जी हां यह बहुत ही आसान है ,बस आपको करना यह है कि छोटे शैतान के जागते ही, उसे कोने में बिठा देना है । और नेगेटिविटी को पॉजिटिविटी में बदलना है । और इसकी प्रैक्टिस करनी है ।

कुछ प्रैक्टिकल तरीके जिससे आप अपनी नेगेटिविटी को पॉजिटिविटी में बदल सकते हैं

Point No. 1: Replace negative to positive जैसे “अरे यार यह काम नहीं हो रहा है” को रिप्लेस कर दो “इस काम में अभी थोड़ी मेहनत और लगेगी” जैसे “आज दिन ही खराब है” को रिप्लेस कर दो “आज सीखने को कुछ ज्यादा ही है

Point No. 2 : Replace positive to more positive जैसे “आज का दिन बढ़िया है” को रिप्लेस कर दो “आज तो मजा ही आ गया” जैसे “आज मैंने अच्छा काम किया” को रिप्लेस कर दो “आज मैंने उम्मीद से बेहतरीन काम किया

दोस्तों यह टेक्निक बहुत सिंपल है , और बहुत ही असरदार है । इसका असर आप अभी से देख सकते हैं । इसलिए कहते हैं कि, आपकी खुशी आपका कॉन्फिडेंस आपके मन में ही है बस आपको इसकी प्रैक्टिस करनी होगी । दोस्तों में चाहूंगा कि आप जो भी सीखो उसकी प्रैक्टिस जरूर करो ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *